तापमान में गिरावट आने के बाद अब बढ़ सकती है ठंड

। जम्मू-कश्मीर में सात दिसंबर के बाद फिर से मौसम में बदलाव की आशंका जताई जा रही है। बारिश और बर्फबारी के चलते लोगों को और ठंड का सामना करना पड़ सकता है। मौसम विभाग ने संभावना जताई है कि सात और आठ दिसंबर को जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के मैदानी इलाकों में बारिश और पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी हो सकती है। यही कारण है कि इस दौरान यहां तापमान गिरेगा जिस वजह से ठंड बढ़ेगी और इसका असर मैदानी इलाकों में भी पड़ेगा। मैदानी इलाकों में तापमान में लगातार गिरावट के कारण लोग कड़ाके की ठंड का सामना कर रहे हैं। इसके अलावा दक्षिण भारत में निवार के बाद अब बुरवेई चक्रवाती तूफान को लेकर चेतावनी दी गई है। मौसम विभाग के अनुसार खाड़ी में उठने वाले इस तूफान की श्रीलंका के त्रिनकोमाली के दक्षिण पूर्व से 240 किमी की दूरी है वहीं भारत के पामबन से फिलहाल यह तूफान 470 किमी और कन्‍याकुमारी से 650 किमी दूरी पर है। मौसम विभाग का अनुमान है कि आने वाले समय में उत्तर प्रदेश में के तापमान में गिरावट आएगी। इसके साथ ही सुबह-शाम कोहरा रहने के भी आसर हैं हालांकि दिन में मौसम साफ रहेगा। बुधवार को लखनऊ में अधिकतम तापमान में मामूली गिरावट दर्ज की गई। इसके अलावा यूपी में प्रदूषण की समस्या भी बढ़ेगी। मैदानी इलाकों में तापमान में लगातार गिरावट के कारण लोग कड़ाके की ठंड का सामना कर रहे हैं। इसके अलावा दक्षिण भारत तापमान में हो रही गिरावट को देखते हुए लग रहा है कि इस बार देशवासियों को ठंड कुछ ज्यादा ही झेलना पड़ेगा। पहाड़ों पर लगातार हो रही बर्फबारी मैदानी इलाकों के लिए ठंड को बढ़ा रही है। हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर इस वक्त पूरी तरह से बर्फ की चादर में ढक चुके हैं। तो वहीं उत्तर भारत के मैदानी इलाकों के तापमान में लगातार गिरावट के कारण लोग कड़ाके की ठंड का सामना कर रहे हैं।

”रायपुर से फ़िज़ा नाज़िश सिद्दकी की रिपोर्ट”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *