पटरियों पर दौड़ेंगी प्राइवेट ट्रेनें, देशभर में 109 रूट पर होगा परिचालन

नईदिल्ली, कोरोना संकट के बीच भारतीय रेलवे निजीकरण की तरफ कदम बढ़ा चुकी है. देश भर के 109 रूट पर निजी ट्रेन दौड़ने आने की तैयारी की है । बिहार में 7 प्राइवेट ट्रेनें चलाने की तैयारी है जबकि सबसे ज्यादा मुंबई में 17, दिल्ली में 16 निजी ट्रेनें रोजाना अलग-अलग शहरों के लिए चलेंगी।

इसके लिए रेल मंत्रालय ने रिक्वेस्ट फॉर क्वालिफिकेशन भी निकाल दिया है और अगले 6 से 8 महीने में फाइनेंसियल बिट्स निकाले जाने की संभावना है।  इसके अलावे हावड़ा से 9, मध्य प्रदेश से 6, राजस्थान में बिहार के बराबर 7, गुजरात और झारखंड में दो-दो हरियाणा और पंजाब में एक-एक निजी ट्रेनें चलेंगी।

दक्षिण भारत के अलग-अलग शहरों से 45 निजी ट्रेनें चलाने की तैयारी है। रेलवे ने जिन निजी ट्रेनों को चलाने की तैयारी की है उनमें कम से कम 16 कोच होंगे।

बिहार में कुल 7 जोड़ी ट्रेनें निजी सेक्टर के जरिए चलाई जाएंगी। जिन शहरों से निजी ट्रेनें चलेंगी उन्हीं शहरों में अलग-अलग जगहों से उतनी ही ट्रेनें वापस भी आएंगी। ट्रेन के लोकोपायलट और गार्ड्स रेलवे की तरफ से मुहैया कराए जाएंगे और सेफ्टी क्लीयरेंस भी रेलवे ही देगा। निजी सेक्टर के जरिए ट्रेन परिचालन की शुरुआत अगले साल होनी है जिसके लिए रेल मंत्रालय ने यह पूरी तैयारी की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *